#Metoo के तहत किसने लगाया बॉलीवुड के सबसे ‘संस्कारी एक्टर’ पर बलात्कार का आरोप

61
हॉलीवुड से आयात किया गया #Metoo अभियान अब बॉलीवुड में भी जोर पकड़ रहा है। अभिनेत्री तनुश्री दत्ता द्वारा नाना पाटेकर पर लगाए गए उत्पीड़न के आरोपों के बाद से ही एक के बाद एक अभिनेत्रियां काम के दौरान अपने साथ हुए शारीरिक उत्पीड़न को लेकर खुलासा कर रहीं हैं। #Metoo अभियान के चलते कई ऐसे चेहरे बेनकाब हो रहे है, जिन्हें कल तक उनके जानदार व्यक्तित्व और शानदार कलाकारी के लिए लोग अपना आदर्श मानते थे। इसी कड़ी में हम सबकों हैरान कर देना वाला एक नया खुलासा टीवी सीरियलों की लेखिका, निर्देशक और प्रोड्यूसर विंता नंदा ने किया है।

His wife was my best friend. We were in and out of each other’s homes, we belonged to the same group of friends, most…

Posted by Vinta Nanda on Monday, October 8, 2018

विंता नंदा ने अपनी एक फेसबुक पोस्ट के जरिए बॉलीवुड के सबसे ‘संस्कारी’ एक्टर पर 90 के दशक में अपने साथ बलात्कार जैसा जघन्य कुकर्म करने की बात कही है। हालांकि विंता नंदा ने अपने पोस्ट में किसी का नाम तो नहीं लिया, लेकिन यह तो जगजाहिर है कि बॉलीवुड का सबसे संस्कारी एक्टर किसे कहा जाता है। इतना ही नहीं तो विंता नंदा ने अपनी पोस्ट में उनके साथ बलात्कार करने वाले कि पहचान 90 के दशक के सबसे लोकप्रिय धारावाहिक ‘तारा’ के लीड एक्टर के रूप में की है। अब अगर विंता नंदा के इन इशारों को समझा जाए, तो आंखों के सामने जो एकमात्र चेहरा उभरता है- वह आलोक नाथ का ही है। इसलिए सोशल मीडिया पर लोग विंता नंदा के आरोपों को लेकर आलोक नाथ को ही घेर रहे है।
Image result for विंता नंदाविंता नंदा ने अपनी फेसबुक पोस्ट के जरिए आलोक नाथ पर सिर्फ एक नहीं बल्कि दो-दो बार बलात्कार करने का इल्जाम लगाया है। विंता नंदा की फेसबुक पोस्ट के मुताबिक पहली बार आलोक नाथ ने उनका तब यौन शोषण किया था, जब वह उनके द्वारा आयोजित एक पार्टी में गई थी। उस पार्टी के खत्म हो जाने के बाद आलोक नाथ द्वारा विंता नंदा को जमकर शराब पिलाई गई और फिर बदहवासी की हालत में उनके साथ बलात्कार की घटना को अंजाम दिया गया। विंता नंदा के शब्दों में- “शराब मेरे मुंह मे उड़ेली जा रही थी और मेरे साथ बलात्कार किया जा रहा था। मेरे साथ बलात्कार ही नहीं हुआ था, बल्कि मुझे मेरे घर ले जाया गया और वहां मेरे साथ बर्बरता भी की गई।”

इस घटना ने विंता नंदा ने हिलाकर रख दिया। इस बारे में उन्होंने अपने दोस्तों से भी बात की। लेकिन, दोस्तों ने उन्हें इस घटना को भूलकर आगे बढ़ने की सलाह दी। विंता नंदा के अनुसार, यह वह दौर था, जब उनके पास कोई काम नहीं था। लेकिन इसके बाद उन्हें एक चैनल में लिखने और निर्देशन का काम मिल गया। लेकिन विंता की बदकिस्मती यह कि जिस आदमी के कुकर्मों को वह भूलकर आगे बढ़ना चाहती थी। वहीं आदमी दोबारा उनकी राह के सामने आकर खड़ा हो गया। क्योंकि जिस ‘तारा’ सीरियल के लेखन और निर्देशन की जिम्मेदारी विंता नंदा को मिली, उसमे खुद आलोक नाथ मुख्य किरदार निभा रहे थे।
Image result for विंता नंदाकरियर और पैसों की जरूरत के चलते विंता नंदा को आलोक नाथ के साथ काम करने के लिए खुद को किसी तरह तैयार करना पड़ा। लेकिन उनकी मजबूरी का एक बार फिर फायदा उठाया गया। संस्कारी एक्टर ने किसी काम के बहाने विंता नंदा को एक बार फिर अपने घर बुलाया और एक बार फिर उनके साथ दुष्कर्म जैसे कुकृत्य को अंजाम दिया। एक ही आदमी द्वारा दो बार अपनी अस्मिता लूटने की घटना के बाद विंता नंदा टूटकर बिखर गई। उन्होंने सीरियल छोड़ दिया और लंबे समय के लिए अवसाद में चली गईं। आज दो दशक बाद #Metoo अभियान के तहत उन्होंने फेसबुक पोस्ट पर अपना दर्द साझा करते हुए लिखा- “विडंबना ये है कि वह दरिंदा जिसके बारे में यहां बात हो रही है, वह बड़ा ही काबिल अभिनेता है और उसे फ़िल्म और टीवी इंडस्ट्री में सबसे संस्कारी व्यक्ति के रूप में जाना जाता है।”
~ रोशन ‘सास्तिक’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here