Justice For Geeta: रेप पीड़िता को “भाभी” कहने वाली शर्मनाक मानसिकता

1586

Justice For Geeta: रेप पीड़िता को “भाभी” कहने वाली शर्मनाक मानसिकता

जम्मू में कठुआ में एक मुस्लिम बच्ची के साथ देवीस्थान में हुए सामूहिक बलात्कार के बाद हाल में यूपी के गाज़ियाबाद के एक मदरसे में गीता(काल्पनिक नाम) के साथ हुए दुष्कर्म की घटना ने भारतीय समाज को एक बाद फिर झकझोर कर रख दिया। कठुआ मामले में जब जम्मू के कुछ हिंदूवादी संगठन द्वारा बलात्कारियों ने समर्थन में उतरने की बात सामने आई तो देश के हर कोने में लोग आक्रोशित होकर सड़कों पर उतर आए।
कठुआ में मुस्लिम बच्ची के साथ हुए बलात्कार के वक्त उसके बलात्कारियों के समर्थन में उतरे लोगों ने खिलाफ देशभर में हुए प्रदर्शनों ने यह जता दिया था कि ना तो हमारे समाज में बलात्कार जैसी चीज के लिए कोई जगह है और ना ही ऐसे जघन्य अपराध का समथर्न करने वाले मानसिक रूप से बीमार लोगो के लिए ही कोई स्थान है। लेकिन जो काम 8 साल की कठुआ रेप पीड़िता के वक्त कट्टर हिंदुओ की तरफ से हुआ, वहीं घटिया हरकत मजहबी जाहिल मुस्लिमो की तरफ से भी 10-11 साल की गीता के साथ हुए बलात्कार के मामले में की जा रही है।
Justice For Geeta
आप यह जानकर हैरान रह जाएंगे कि फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सएप्प जैसे सोशल मीडिया पर जहां एक तरफ Justice For Geeta के लिए हैशटैग चल रहा है। वहीं नीचता की हद पार करते हुए बड़ी तादाद में एक तबका बलात्कार से पीड़ित 10-11 साल की बच्ची गीता का मजाक उड़ाने में लगा हुआ है। सोशल मीडिया पर ऐसे कट्टरपंथी जाहिलों को भरमार है जो 10-11 साल की लड़की गीता का 17 साल के उस लड़के के साथ उसके प्रेम प्रसंग की बात कर रहे है जिसपर खुद गीता ने बलात्कार कर आरोप लगाया है।
Justice For Geeta
अब इससे ज्यादा घटिया बात और क्या हो सकती है कि जहां एक तरफ लोग Justice For Geeta के लिए सड़कों पर उतर रहे हैं। वहीं कुछ सनकी बच्ची के साथ बलात्कार करने वाले लड़के के साथ ही बच्ची के प्रेम प्रसंग की बात उड़ा रहे है। दोहरे चरित्र की इंतहा यह कि गीता और बलात्कारी लड़के के बीच प्रेम संबंध की बात बोलाकर सोशल मीडिया पर पूरे मामले का माखौल उड़ाने वाले कुछ लोगों ने Justice For Asifa की Dp लगाई हुई हैं। यानि साफ है कि ऐसे जाहिलो को किसी भी धर्म के किसी बच्ची से कोई हमदर्दी नही है। इन्हें बस अपनी अपने अंदर भरे जहर को उगलना है।
Justice For Geeta
आप का खून खौल उठेगा जब आपको यह खबर लगेगी कि 11 साल की बलात्कार पीड़िता बच्ची के लिए सोशल मीडिया पर मुस्लिम जमात का एक तबका “गीता भाभी” जैसे शब्दों का इस्तेमाल कर रहा है। एक 11 साल की बच्ची के साथ 17 साल के बलात्कारी लड़के की शादी कराने की बात लिख रहा हैं। बलात्कार पीड़िता जिस लड़की से उन्हें हमदर्दी होनी चाहिए थी, उसके बारे में भद्दी-भद्दी बातें लिख रहे है। ऐसे लोगों की सिर्फ निंदा करने से बात नही बनेगी। जिस-जिस आईडी से गीता के लिए अपमानजनक बातें लिखी गईं है, उनकी निशानदेही होनी चाहिए। उनपर कड़ी-से-कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here