विराट कोहली के नाम रहा टेस्ट मैच का दूसरा दिन

150

दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद अब यह लगभग यह तय हो गया है कि इस मैच किसी भी सूरत में ड्रा नही होगा। दो दिन में 21 विकेट गिरने के बाद यह पक्का है कि जीत का ऊंट किसी न किसी करवट बैठेगा जरूर। पहले दिन 285 रन पर अपने 9 विकेट गवां देने वाली इंग्लैंड की टीम ने जब दूसरे दिन की शुरुआत की। तो स्कोरबोर्ड में 2 रन जोड़ने के बाद ही इंग्लैंड की पहली पारी 287 रन पर समाप्त हो गई।

इंग्लैंड को उसी की सरजमीं पर इतने कम स्कोर ओर समेटने के बाद सबकी उम्मीदें भारतीय बल्लेबाजों से बंध गई। लेकिन कप्तान विराट कोहली के अलावा भारत का कोई बल्लेबाज इंग्लिश गेंदबाजों के आगे ज्यादा देर टिक नही पाया। इंग्लैंड के 287 रनों के जवाब में भारत के सलामी बल्लेबाज विजय और धवन ने मिलकर पहले विकेट के लिए 50 रन जोड़कर एक अच्छी शुरुआत की नींव भी रख दी।

लेकिन इससे पहले कि यह साझेदारी और ज्यादा पनप कर इंग्लैंड के लिए परेशानी खड़ी करती। इंग्लिश बल्लेबाजों ने 10 रन के अंदर तीन धाकड़ बल्लेबाजों को पवेलियन में भेज भारत को ही भारी मुश्किल में डाल दिया। 50 पर बिना किसी नुकसान के खेल रही टीम इंडिया 59 रनों पर पहुंचते-पहुंचते मुरली विजय,लोकेश राहुल और शिखर धवन का विकेट गवां चुकी थी। इसके बाद कप्तान कोहली और अजिंक्य रहाणे के बीच 41 रनों की पार्टरनशिप तो हुई।

इस पार्टरनशिप कि बदौलत भारत ने अपने 100 रन पूरे तो कर लिए। लेकिन 100 रन पर ही पहले अजिंक्य रहाणे और फिर दिनेश कार्तिक का विकेट गिर जाने के बाद भारत गहरे संकट में फंस गया। 100 रन पर ही 5 बल्लेबाजों के पवेलियन लौट जाने के चलते एक समय ऐसा लगने लगा कि भारतीय टीम 200 रन के अंदर ही ऑल आउट हो जाएगी। लेकिन कप्तान कोहली एक छोर पकड़ कर मैदान पर खड़े रहे। 6वें विकेट के लिए कोहली और हार्दिक पांड्या के बीच हुई 48 रन की साझेदारी ने भारतीय टीम की डूबती नैया को तिनके का सहारा दिया।

इसे भी पढ़े-खत्म हुई इंतजार की घड़ियां,इस दिन होगा भारत-पाकिस्तान के बीच हाईवोल्टेज मुकाबला
इसे भी पढ़े-जब धोनी ने गुस्से में कहा,”यहां पर मैं 300 वनडे खेला हूं, क्या मैं पागल हूं?”
इसे भी पढ़े-भूखे पेट सोया…अँधेरे में अकेले रोया…फुटपाथ पर पानी पूरी बेची….और अब भारतीय क्रिकेट टीम का है हिस्सा

हार्दिक पांड्या के आउट होने के बाद भारत ने 217 रन के स्कोर पर अपने 9 विकेट गवां दिए। हार्दिक पांड्या 22 रन, अश्विन 10 रन, शमी 2 रन और इशांत 5 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। अपने सामने एक के बाद एक गिरते विकेटों के बावजूद कप्ताम विराट कोहली इंग्लैंड के गेंदबाजों की धुनाई करना जारी रखा। कप्तान कोहली ने आखिरी विकेट के लिए उमेश यादव के साथ मिलकर 47 रन जोड़ दिए। एक पुछल्ले बल्लेबाज के साथ मिलकर 47 रन जोड़ देने को लेकर और साथ ही 149 रन की यादगार पारी के लिए क्रिकेट के कई दिग्गजों ने कोहली पर तारीफों की बरसात कर दी।


विराट कोहली के आउट होने के बाद भारत की पहली पारी 274 रन पर सिमट गई और इस तरह इंग्लैंड को 13 रनों की बढ़त मिल गई। हालांकि दूसरे दिन के अंत में अपनी दूसरी पारी की शुरुआर करने उतरी इंग्लिश टीम ने दिन का खेल खत्म होते-होते एलिस्टर कुक के रूप में अपना पहला और बहुमूल्य विकेट गवां दिया। वैसे सबसे मजेदार बात यह रह की पहली इनिंग्स की तरह दूसरी इंनिग्स में भी एलिस्टर कुक को रवींद्रचन्द्र अश्विन ने ही उन्हें अपना शिकार बनाया। उससे भी ज्यादा दिलचस्प बात यह कि दोनों ही बार अश्विन ने एलिस्टर कुक को क्लीन बोल्ड करने में सफलता पाई। लगता है 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में अश्विन और कुक की यह जंग देखने लायक होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here