राजकोट टेस्ट में पहले दिन पृथ्वी शॉ ने अपने डेब्यू शतक से किया लोगों के दिलों पर राज

60
भारत और वेस्टइंडीज के बीच आज राजकोट के मैदान पर 2 टेस्ट मैचों की सीरीज के पहला टेस्ट का आगाज हो गया। पहले टेस्ट के पहले दिन भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। इसके बाद जब भारतीय टीम बल्लेबाजी करने उतरी, तो फिर भारत के लिए पहली बार अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट खेल रहे एक 18 साल के लड़के ने अपने अद्भुत प्रदर्शन से एक नया इतिहास रच दिया। पृथ्वी शॉ ने अपने पहले ही टेस्ट की पहली पारी में शतक जड़कर सबका दिल जीत लिया।
Image result for पृथ्वी शॉटॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम के लिए पारी का आगाज करने उतरे पृथ्वी शाह और लोकेश राहुल। लोकेश राहुल तो सिर्फ 4 गेंदे खेलकर बिना खाता खोले ही आउट हो गए, लेकिन आज अपना पहला अतंर्राष्ट्रीय टेस्ट मैच खेल रहे 18 वर्षीय पृथ्वी शॉ ने बल्ले से गजब का खेल दिखाते हुए ना सिर्फ पुराने स्थापित रिकॉर्ड तोड़े बल्कि पहले ही टेस्ट मैच में 134 रन बनाकर नए कीर्तिमान भी बना दिए। इस शतक के साथ ही पृथ्वी शॉ अपने डेब्यू टेस्ट मैच में ही शानदार शतक जड़ने वाले सबसे युवा भारतीय बल्लेबाज बन गए।
आज भारत और वेस्टइंडीज के बीच राजकोट में खेले गए पहले टेस्ट मैच के पहले दिन भले ही सारी सुर्खिया पृथ्वी शॉ बटोर ले गए हो। लेकिन पहले दिन पृथ्वी शॉ के अलावा अन्य भारतीय बल्लेबाजों ने भी कमाल का खेल दिखाया। जिसकी बदौलत ही भारतीय टीम ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक सिर्फ चार विकेट खोकर 364 रन बना लिए। भारत ने अपना पहला विकेट तो लोकेश राहुल रूप में पहले ही ओवर में खो दिया। लेकिन, इसके बाद दूसरे विकेट के लिए पृथ्वी शॉ और चेतेश्वर पुजारा के बीच 206 रनों की साझेदारी हुई। और इस साझेदारी ने यह तय कर दिया कि मैच का पहला दिन भारत ने मार लिया है।
भारत को दूसरा झटका चेतेश्वर पुजारा के रूप में लगा। 86 रन बनाकर खेल रहें चेतेश्वर पुजारा शरमन लुइस की गेंद अपना विकेट गंवा बैठें और शतक से सिर्फ 14 कदम दूर रह गए। पुजारा के बाद मैदान पर टीम के कप्तान विराट कोहली का आगमन हुआ। पृथ्वी शॉ कप्तान कोहली ने साथ मिलकर भारत की पारी को ज्यादा आगे नहीं ले जा सकें। और 154 गेंदों में 19 चौकों के सहारे 134 रन की ऐतिहासिक पारी खेलकर बिशू की गेंद पर उनके ही हाथों कैच आउट हो गए। पृथ्वी शॉ के पवेलियन लौटने के बाद कप्तान कोहली ने अजिंक्य रहाणे के साथ चौथे विकेट के लिए 105 रन जोड़ दिए। दिन का आखिरी विकेट अजिंक्य रहाणे के रूप में गिरा। अजिंक्य रहाणे के बल्ले से 41 रन निकले। दिन का खेल खत्म होने तक विराट कोहली 72 और ऋषभ पंत 17 रन बनाकर खेल रहे थे।
~ रोशन ‘सास्तिक’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here