Jharkhand Lynching: मवेशी चोरी के शक में दो मुस्लिम व्यक्तियों की पीट-पीटकर हत्या

525

झारखंड के गोड्डा जिले में मवेशी चोरी के शक में गांव के कुछ लोगों ने कथित तौर पर दो मुस्लिम व्यक्तियों की पीट-पीटकर हत्या कर दी है। संताल परगना के DIG अखिलेश कुमार झा के मुताबिक़, बीते रात आदिवासी बहुल दुल्लु गांव के मुंसी मुर्मू और अन्य के घर से कथित तौर पर 5 लोगों ने भैंस चुराई थी।

Jharkhand Lynching
  • आदिवासी बहुल दुल्लु गांव के मुंसी मुर्मू और अन्य के घर से कथित तौर पर 5 लोगों ने भैंस चुराई थी।
  • गुस्साए ग्रामीणों ने 35 वर्षीय सिराबुद्दीन अंसारी और 30 वर्षीय मुर्तज़ा अंसारी को पीट पीटकर मौत के घाट उतार दिया।
  • पीड़ित रांची से लगभग 200 किलोमीटर दूर स्थित तालझारी जिले के रहने वाले थे।
  • पिछले साल मार्च महीने में झारखंड के एक कोर्ट ने एक बीजेपी कार्यकर्ता और 10 अन्य को एक मुस्लिम ट्रेडर की जून 2017 में हत्या मामले में दोषी करार दिया था।

पुलिस के मुताबिक़, भैसों को ग़ायब देख मुर्मू औऱ अन्य ग्रामीणों ने उन 5 लोगों का पीछा किया। जिन्हें बग़ल के बनकटी गांव में मवेशियों के साथ पकड़ लिया गया। गुस्साए ग्रामीणों ने 35 वर्षीय सिराबुद्दीन अंसारी और 30 वर्षीय मुर्तज़ा अंसारी को पीट पीटकर मौत के घाट उतार दिया। जबकि अन्य तीन भागने में सफ़ल रहे।

इस मामले में मुंसी मुर्मू समेत चार लोगों को गिरफ़्तार किया गया है। पीड़ित रांची से लगभग 200 किलोमीटर दूर स्थित तालझारी जिले के रहने वाले थे। इलाके में कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए मजिस्ट्रेट के साथ-साथ पर्याप्त पुलिस फोर्स की तैनाती कर दी गई है। फ़िलहाल, इलाके में स्थिती नियंत्रण में है।

इसे भी पढ़ें: रांची में जय श्रीराम बोलकर नमाज से लौट रहे मौलाना की पिटाई

Jharkhand Lynching

ग्रामीणों की शिकायत पर सामान्य चोरी का मामला दर्ज कर लिया गया है। मुर्मू समेत चार लोगों पर IPC के उचित सेक्शन के तहत हत्या और दंगा से संबंधित मामला दर्ज किया गया है। सभी चारो आरोपी पुलिस हिरासत में हैं। पिछले साल मार्च महीने में झारखंड के एक कोर्ट ने एक बीजेपी कार्यकर्ता और 10 अन्य को एक मुस्लिम ट्रेडर की जून 2017 में हत्या मामले में दोषी करार दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here